Hindi Poem: Dekh Congress Ne kya Haal Kar Diya!

देख  कांग्रेस  ने  क्या  हाल  कर  दिया  मेरे  देश  का
भ्रष्टाचार  में  नया  रिकॉर्ड  कायम  कर  दिया
खाने  के  बाद  कहते  हैं  हमने  तो  खाया  नहीं
सभी  प्रमाणों  को  नकार  दिया
अरे  भैया! इतना  पैसा  लूटने  की  आजादी  इनको  किसने  दी
एक के बाद  एक  घोटालों  ने  तो  इनकी  पोल  खोल  दी
फिर  भी  इनके  तेवर  ढीले  नहीं  पड़े
पड़ते  भी  क्यूँ  जब  सबने  मिलकर  काम किया  है
जब  प्रश्न  पूछो  तो  कहते  हैं  हम तो  पाक  है
इस  सरकार  ने  हमें  मूर्ख  समझा  है
तभी  तो  इतने  आंदोलनों  के  बाद  भी  इनको  जन  भावना  समझ  नहीं  आई  है
इनकी  खिलाफत  जिसने  की  उसे  जेल  भेजा  लाठी चार्ज  किया  twiiter/facebook के  account बंद  किया
पूरी  ताक़त  झोंख  दी  अपनी  नाकामी  छुपाने  में
बावजूद  इसके, घोटालों  पर  मनमोहन  का  मुख  नहीं  खुलता  है
“मेरी  ख़ामोशी  बेहतर  है” का  जुमला  सुनने  को  बस  मिलता  है
नहीं  मानेंगे  की  असम हिंसा  की  वजह  है  क्या
हर  चीज़  का  ठीकरा  RSS aur Pakistan के  सर  पर  फोड़ेंगे
अब  तो  यही  समझाएं  की  economy का  बंटाधार  कैसे  हुआ
कोयला  आवंटन  में  सबका  क्या  योगदान  रहा
कांग्रेस  का  पंजा  अब  भारत  माँ  को छलनी कर  रहा  है
नहीं  सहा  जाएगा  ये अत्याचार
सुनो  मेरे  साथियों , मात्रभूमि  की  वेदना  सुनो
चारों दिशाओं  से  निकली  आहें  बर्बाद  नहीं  जायेंगी
अगले  चुनाव  में  कांग्रेस  का  पतन  की  वजह  बन  जायेंगी
नहीं  चाहिए  वो  सरकार जिसने
हर  कदम  पर  घुटने  टेक  दिया
वोट और नोट  की  खातिर  मुल्क  बेच  दिया!!!
Logo_Ris

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *